नीरज कुमार की रिपोर्ट

आज उत्तर प्रदेश जर्नलिस्ट्स एसोसिएशन (उपजा) महोबा के तत्वाधान में गाजियाबाद के वरिष्ठ पत्रकार विक्रम जोशी की उनकी पुत्रियों के सामने हुई नृशंस हत्या के विरोध में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री को संबोधित पांच सूत्रीय ज्ञापन आज जिलाधिकारी महोबा अवधेश कुमार तिवारी के माध्यम से भेजा गया। ज्ञापन में बताया गया है कि गाजियाबाद के वरिष्ठ पत्रकार विक्रम जोशी द्वारा स्थानीय पुलिस को छेड़खानी के मामले में 16 जुलाई 2020 को नामजद तहरीर दी थी ,इसके बावजूद पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज नहीं की इसके बाद दबंग बदमाशों के हौसले बुलंद हो गए।

उन्होंने 17 जुलाई को उनकी दो मासूम बेटियों के सामने वरिष्ठ पत्रकार विक्रम जोशी की हत्या कर दी गई। इस मामले में मुख्यमंत्री को संबोधित 5 सूत्रीय ज्ञापन में उपजा के सदस्यों की मांगों में संपूर्ण देश के पत्रकारो के हित मे पत्रकार सुरक्षा कानून लागू किया जाए, शहीद पत्रकार विक्रम जोशी के परिजनों को एक करोड़ की आर्थिक सहायता दी जाए, परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी दी जाए। शहीद पत्रकार के हत्यारों को फांसी की सजा दी जाए तथा मृतक पत्रकार के परिजनों को सुरक्षा दी जाए। इसी तरह उत्तर प्रदेश के समस्त पत्रकारों की सुरक्षा सुनिश्चित की जाए पत्रकार उत्पीड़न के मामले में शिकायत होने पर तुरंत कार्रवाई न करने पर अधिकारियों के विरुद्ध शासन व प्रशासन द्वारा जांच की जाए। दोषी पाए जाने पर तत्काल कार्रवाई की जाए क्योंकि पत्रकार उत्पीड़न की शिकायत पर कार्यवाही ना होने से अपराधी तत्व ऐसी वारदातो को अंजाम दे डालते हैं। ज्ञापन देने वालों में उपजा के जिलाध्यक्ष महेंद्र द्विवेदी, जिला उपाध्यक्ष आनंद तिवारी, संरक्षक मंडल के आनंद द्विवेदी, विराग पचौरी, राजेश चतुर्वेदी,महामंत्री कु.कृष्णगोपाल सिंह, प्रकाश सक्सेना,योगेश कुमार चौबे बहीद अहमद, अरसद हुसैन, तेजप्रताप सिंह, चन्द्रशेखर नामदेव, राजेन्द्र तिवारी, नानू जुवेर अहमद सहित तमाम पत्रकार गण मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here