संतकबीरनगर : उमाशंकर मिश्र

जनपद संत कबीर नगर के धनघटा थानाध्यक्ष अखिल आनंद उपाध्याय द्वारा भ्रष्टाचार मुक्त भय मुक्त सरकार की मंशा पर पानी फेर रहे हैं। अपने दायित्व का सही ढंग से निर्वहन नहीं कर रहे हैं। भ्रष्टाचार का बढ़ावा दे रहे हैं। गरीब पीड़ितों की आवाज दबाने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ रहे हैं। क्षेत्र में चर्चा का विषय बना हुआ है। कि रुपया लेकर जमीन कब्जा करना। फर्जी मुकदमा दर्ज किया जा रहा है। कच्ची शराब का धंधा कुटीर उद्योग के रूप में फल-फूल रहा है। कच्ची शराब की कारोबारी पुलिस को हफ्ता देकर अंजाम दे रहे हैं। कुछ पीड़ित उच्च अधिकारियों से शिकायत किया है जो निम्न है

1. धनघटा थाना क्षेत्र के मझौरा निवासी कबूतरा देवी पत्नी कल्पनाथ ने यह शिकायत किया है। बच्चों के विवाद में धारदार हथियार से हमला कर दबंगों ने लहूलुहान कर दिया। धनघटा थानाध्यक्ष द्वारा मुकदमा दर्ज किया गया परंतु अपराधियों को बचाने के लिए रुपया लेकर फर्जी मुकदमा दर्ज कर दिया गया।

2. धनघटा थाना क्षेत्र के भर्दवलिया निवासी परदेसी ने। उच्च अधिकारियों को यह शिकायत किया है कि अवैध निर्माण। थानाध्यक्ष ने रुपया लेकर। करा दिया जब तक निर्माण पूरा नहीं हुआ तब तक उसे थाने पर बैठाया गया निर्माण होने के बाद थाने से छोड़ दिया गया।

3. धनघटा थाने की पुलिस कच्ची शराब का धंधा। मोटी रकम कमाने का जरिया बना लिया है कच्ची शराब के कारोबारी पुलिस को हफ्ता देकर कच्ची शराब का धंधा कुटीर उद्योग के रूप में फल-फूल रहा है। पुलिस एस्से कच्ची शराब के कारोबारियों के वहां छापा मारती है जहां के कारोबारी पुलिस को हफ्ता नहीं दे पाते माझा क्षेत्र, बालमपुर। चपरा पूर्वी आगा पुर उर्फ गुलरिया मदरा नारायणपुर माझाचहोड़ा, सुअरहा, रामपुर लवकीहवा तेजपुर, बछईपुर तेजपुर गाई बसंतपुर मझौरा मूड़ाडिहा घोरांग आदि गांव तथा 50% ईट भट्टे पर पुलिस के संरक्षण में कच्ची शराब का धंधा फल-फूल रहा है।
महोदय उपरोक्त घटनाएं आंशिक हैं ऐसे तमाम घटनाएं क्षेत्र में घट रही हैं। तमाम पीड़ित हार थक कर आवाज उठाने की हिम्मत नहीं करते।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here