लखनऊ/ठाकुरगंज

उत्तर प्रदेश में जबसे भाजपा आयी है ,तब से गुंडाराज कायम हो गया है। एक तरफ योगी सरकार अपराधियों पर लगाम लगा रही है ,और अपराधियों के जेल में होते हुए भी उनकी सारी संपत्ति जब्त कर रही है ,तो दूसरी तरफ बेख़ौफ़ लोग थाने के पास ही ताबड़ तोड़ फायरिंग करके व्यक्ति को मौत की नींद सुला दे रहे है। ये योगी सरकार के खोखले वादे और दावे सिर्फ भाषण देने के लिए है। योगी के सरकारी अफसर कान में तेल डालकर सोते रहते है उनके थाने के पास किसी को दौड़ाकर गोली मारी जाती है लेकिन पुलिस के कानों तक आवाज नहीं पहुँचती।

ऐसा ही मामला सामने आया है राजधानी लखनऊ के ठाकुरगंज क्षेत्र का जहा पुलिस थाने के पास ही एक व्यक्ति को दौड़कर कुछ लोगों ने गोली मारी।दरअसल ये पूरा मामला पुरानी रंजिश को लेकर हुआ। आपको बता दें की विवाद के दौरान सुशील और रेशू ने विपिन पर ताबड़तोड़ फायर की , बचाव में विपिन भागा तो दौड़ाकर उसे गोली मारी जिससे गोली विपिन के सर में जाकर लगी । इसके बाद मौके सेखुनी भाग निकलें। साथी और ग्रामीण घायल विपिन को आनन-फानन ट्रामा सेंटर लेकर पहुंचे। जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।
प्रॉपर्टी के विवाद में मंगलवार दोपहर ठाकुरगंज रिंग रोड स्थित शीला गार्डेन के पास विपिन विश्वकर्मा (25) की गोली मारकर हत्या कर दी गई। हत्यारों ने विपिन को एक प्लाट में दौड़ा कर गोली मारी। वारदात को अंजाम देकर आरोपित भाग निकलें। पुलिस की टीमें आरोपितों की तलाश में दबिश दे रही हैं। कन्हैया माधवपुर निवासी विपिन विश्वकर्मा मंगलवार को कुछ साथियों के साथ शीला गार्डेन के पास स्थित एक प्लाट पर गए थे। इस बीच प्रॉपर्टी डीलर सुशील यादव और रेशू भी कुछ साथियों के साथ पहुंचे। वहां प्लाट को लेकर दोनों पक्षों में विवाद हो गया।

विवाद के दौरान सुशील और रेशू ने विपिन पर फायर झोंक दी। बचाव में विपिन भागा तो दौड़ाकर उसे गोली मारी। इसके बाद मौके से भाग निकलें। साथी और ग्रामीण घायल विपिन को आनन-फानन ट्रामा लेकर पहुंचे। जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। सूचना पर पुलिस पहुंची घटना स्थल का निरीक्षण किया। एसीपी चौक आईपी सिंह ने बताया कि हत्यारोपितों की तलाश में पुलिस की कई टीमें दबिश दे रही हैं। दोनों पक्षों में प्रॉपर्टी और पुरानी रंजिश को लेकर विवाद था। दो दिन पहले भी विवाद था। रिंग रोड पर ही सुशील का प्रॉपर्टी डीलिंग का आफिस है।

सांसद पुत्र का करीबी था विपिन
बताया जा रहा है कि मोहनलालगंज सांसद के पुत्र आयुष किशोर का विपिन बेहद करीबी था। घटना की जानकारी पर आयुष भी मौके पर पहुंचे। कुछ माह पहले सांसद पुत्र का दुबग्गा चौकी के पास विवाद हुआ था। उसमेंं भी विपिन उनके साथ था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here