अमेरिका के राष्ट्रपति चुनाव में धांधली की शिकायत कर रहे ट्रंप समर्थकों ने पेंसिलवानिया से जुड़े मुकदमे में एक शिकायत को वापस ले लिया है. जबकि एक अन्य मामले में आज सुनवाई भी है. ट्रंप के समर्थकों का आरोप है कि लाखों डाक मतपत्रों की गिनती गलत तरीके से की गई थी. ऐसे मतों की संख्या 6,82,479 है. ट्रंप के समर्थकों का आरोप है कि जब इन मतों की गिनती की जा रही थी तो वहां कोई डेमोक्रेटिक प्रतिनिधि मौजूद नहीं था. इस मामले को लेकर फेडरल कोर्ट में मुकदमा दायर किया गया है. इस मुकदमे में मांग की गई कि डेमोक्रेटिक उम्मीदवार जो बाइडेन को पेंसिलवानिया का विजेता घोषित करने से रोका जाए. याचिका में कहा गया है कि मतों की गिनती के दौरान डेमोक्रेटिक को रिपब्लिकन वोटों से ज्यादा तरजीह दी गई. इस अपील में मांग की गई है कि वैसे वोटों को रद्द किया जाए जिन्हें अपनी गलतियां ठीक करने का मौका दिया गया था. अगर ये गलतियां ठीक नहीं की जाती तो ऐसे वोट रद्द हो सकते थे और फिर पेंसिलवानिया के चुनाव का नतीजा कुछ और होने वाला था.
राष्ट्रपति ट्रंप के समर्थकों की ओर से दायर इस मुकदमे में आरोप लगाया गया है कि डेमोक्रेटिक वोटों की बहुलता वाले क्षेत्रों में डाक मतों की पहचान की गई और कानून का उल्लंघन किया गया. ये धांधली चुनाव के दिन से पहले की गई. यहां पर मतदाताओं को अपनी गलती सुधारने का मौका दिया गया. जैसे कि कई मतपत्रों में गुप्त लिफाफा नहीं था, कई मत पत्रों में मतादाताओं के हस्ताक्षर नहीं थे. आरोप लगाया गया है कि मतदाताओं को ऐसी गलतियों को सुधारने का मौका दिया गया ताकि ये सुनिश्चित हो सके कि ऐसे वोटों की गिनती हो सके. अब मंगलवार को ट्रंप समर्थकों के इन आरोपों पर फेडरल कोर्ट में सुनवाई होगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here