गोरखपुर : बी. पी. मिश्रा

तक्षशिला के मंच से “मिशन अमूनेट और मिशन मित्रम परिवार” का हुआ लोकार्पण तक्षशिला” द्वारा चलाये जा
रहे “जनजागरण अभियान” “बात शहर की” आठवीं श्रृखंला में वेबनार के माध्यम से चलाई जा रही श्रृंखला के क्रम में आज 18.10. 2020 को “महिला सशक्तीकरण, घरेलू हिंसा एवं समाज में महिलाओं की सहभागिता” पर परिचर्चा सम्पन्न हुई। जिसमें मुख्य अतिथि की भुमिका में पूर्व मेयर एवं वर्तमान में उपाध्यक्ष पद पर आसीन श्रीमती “अन्जु चौधरी” जी ने महिला आयोग के क्रियाकलापों पर प्रकाश डालते हुए कहा कि कैसे एक आम जरूरतमंद महिला प्रशासन की मदद् से न केवल अपनी समस्याओं का समाधान कर सकतीं हैं। बल्कि महिला आयोग एवं तक्षशिला के हेल्प लाइन नम्बर पर कभी भी फोन कर अथवा व्हाट्सएप के माध्यम से मदद मांग सकती है, जिसमें उन्होंने तक्षशिला के हेल्पलाइन नंबर 9696305054 यह साथ-साथ महिला आयोग के हेल्पलाइन नंबर 93368 33337, 9935311226 एवं साथ ही व्हाट्सएप नंबर 63065 1178 पर भी संपर्क कर सकते हैं जिसके माध्यम से आपकी समस्या का समाधान किया जाएगा। इसके साथ साथ ही उन्होंने अपने पर्सनल सेक्रेटरी (पीआरओ) मनोज निशाद जी के फोन नंबर पर भी संपर्क करने को कहा और उनके भी मोबाइल नंबर को सभी के लिए प्रसारित किया 7521016357, 5531016357 पर भी सूचना दे सकतें है।

इसी क्रम में कार्यक्रम के द्वितीय सत्र में श्रीमती पुजा पाण्डेय, जो कि “वन स्टाप सेन्टर” एवं 112 की सेनटर हेड है, ने प्रदेश सरकार महिलाओं के लिए चलाये जा रहे जनहितकारी योजनाओं के साथ-साथ “मिशन शक्ति” पर भी प्रकाश डाला । उन्होंने प्रदेश सरकार द्वारा जारी हेल्पलाइन नंबरों जिसमें 1090 विमेन पावर लाइन,181महिला हेल्प लाइन, 1076 मुख्य मन्त्री हेल्प नम्बर, 112 पुलिस आपातकालीन, सेवा, 1098 चाइल्ड लाइन, 102 स्वास्थ्य सेवा, 108 एम्बुलेन्स सेवा के बारे में भी विस्तार से बताया और महिलाओं पर लगातार हो रहे अत्याचारों से कई प्रसंगों पर भी प्रकाश डाला ।
इसी क्रम में तक्षशिला के टीम से बात करते हुये बहुत उन्होंने बताया कि शीघ्र ही महिलाओ के सर्वांगी विकास के लिए एक प्रशिक्षण कार्यशाला का भी आयोजन भी किया जाना तय है जिसमें मुख्य रूप से राज्य महिला आयोग एवं वन स्टाप सेन्टर ने अपनी सहयोगीता देने अपनी स्वीकृति प्रदान की है साथ ही तक्षशिला परिवार को आश्वासन प्रदान किया है तक्षशिला के सचिव श्री दीप जी ने इसी क्रम में “मिशन शक्ति” को सहयोग करने के लिए तक्षशिला के द्वारा दो योजनाओं का शुभारंभ भी किया। जिसमें पहली योजना “मिशन अमुनेट” (जो की मिश्र की सभ्यता में वाणीत है ), से प्रेरित है, जिसमें हर किसी को जागरूक करने हेतु एवं समाज को सुरक्षित बनाने के लिए एक सिपाही में तब्दील करना होता है, जिसके माध्यम से हर स्त्री अपने आस-पास की स्त्रियों पर हो रहे अत्याचारों की गुप्त रूप से सामना सके जहाँ पर उसकी पहचान को बिना उजागर किये हुये पीडिता को उचित न्याय एवं सम्मान प्राप्त हो सकें।

एवं द्वितीय योजना “मिशन मित्रम परिवार” का भी शुभारम्भ किया गया। जिसके अन्तर्गत हर परिवार को गोद लेकर उनकी समस्याओं का समाधान उस घर में मौजूद महिलाओं के माध्यम से किया जा सके। जिसमें तक्षशिला मुख्य भुमिका निभायेंगा, ऐसा करने से हम समाज में महिलाओं को मुख्यधारा से जोड़ पाएंगे तथा पित्र सत्ता के समानांतर एक मातृ सत्ता की भी न्यू रख पाऐगे ।  इसी क्रम में रागिनी हेल्प लाइन की सचिव अमृता राव जी ने महिलाओं पर हो रहे अत्याचारों के खिलाफ रागिनी हेल्प लाइन की भुमिका पर भी प्रकाश डाला एवं महिलाओं पर हो रहे अत्याचारो के खिलाफ अपनी प्रतिवधयता खुले मन से व्यक्त की और रागिनी हेल्प लाइन नम्बर 9170491284 पर कभी भी समस्याओं के निदान की बात की। इसी क्रम में गोपीनाथ इनलाइटमेनट फाउंडेशन की सचिव रागिनी गुप्ता जी ने बच्चियों के शिक्षा एवं विकास के कार्यों में अपने संसथान की तरफ से सहयोगीता सुनिश्चित की संजना मिश्रा ने भी तक्षशिला के मंच से इस बात का आश्वासन दिया कि युवा महिला की बेरोजगारी के लिए वे कटिबद्ध रहेगी एवं निकट भविष्य में महिलाओं के अधिकार के एक पार्टी का गठन करेंगी जिससे संसद् भवन में महिलाओं की सहभागिता बढायी जा सके।

इसी क्रम में प्रशन काल के दौरान रश्मि मिश्रा जी ने घरेलू हिंसा से जुडे हुए घटनाओं का जिक्र किया, तो कानपुर से श्रीमती कविता अरोरा जी ने विद्यालयो मे शिक्षको के माध्यम से बच्चियों पर हो रहें शारीरिक एवं मानसिक शोषण का प्रमुखता से जिक्र किया, जिसका श्रीमती पूजा पाण्डेय जी ने एव अंजू चौधरी जी ने समाधान किया। इसी क्रम में महिला थाने के द्वारा धुलमुल रवैया भी महिला आयोग के प्रकाश मे आया, जिसमें महिला आयोग द्वारा शीघ्र ही कार्यवाही की भी मांग उठाई गयी । आयोजक कमेटी में मुख्य रूप से सीआरसी गोरखपुर, मित्रम परिवार, गोपीनाथ इनलाइटमेनट फाउंडेशन, अल्पाइन फाउंडेशन, सक्षम, सुयश वैलफेयर फाउंडेशन, सेवा संस्थान, समाधान वेलफेयर फाउंडेशन गोरखपुर, आदि का विशेष सहयोग सम्मिलित रहा। कार्यक्रम में कविता अरोरा, बृजेश मालवीय, सुमनाजली, इंद्रेश, चित्रा देवी, अर्शद आलम, शमीर सिंह, अर्चना,आरव राव, पुजा कुमारी, प्रमोद दुबे, नम्रता श्रीवास्तव, डॉ. वी.के.सिंह, गोविन्द यादव, अमरनाथ जयसवाल, रामकृष्ण शरण मणि त्रिपाठी, दीपक भगत आदि गणमान्य लोगों ने अपनी उपस्थिति दर्ज कराई एवं कार्यक्रम का लाभ लिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here