कर्नाटक

कल बृहस्पतिवार को देर रात कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरु से 350 किलोमीटर दूर Sशिवमोगा में हुए एक ब्लास्ट में मौके पर ही 8 लोगों की मौत हो गई। पुलिस प्रशासन के अनुसार ‘शिवमोगा में जिलेटिन ले जा रहे एक ट्रक में धमाका हुआ, धमाके के बाद यहाँ के स्थानीय लोगों ने इसकी तेज आवाज और धरती का कंपन तक महसूस किया।’ शिवमोगा का ये ब्लास्ट कितना खतरनाक था, ये आप इन तस्वीरों में ही देख सकते है जो धमाके के बाद सामने आयी है। इन तस्वीरों में साफ़ दिखाई दे रहा है की कुछ इमारतों के शीशे टूट गए तो दूसरी तरफ सड़क भी टूटी हुई नजर आ रही है।

शिवमोगा के जिलाधिकारी शिवकुमार ने कहा है कि यह हुनासोडु गांव में एक रेलवे क्रशर साइट पर हुआ डायनामाइट का धमाका था, जिसमें कम से कम 8 लोगों की मौत हो चुकी है। यह धमाका शिवमोगा शहर से करीब 5-6 किलोमीटर की दूरी पर हुआ था। अभी पुलिस मौके पर है और इलाके की घेराबंदी कर दी गई है।

इलाके में अभी आग की लपटें उठ रही हैं और धुएं के कारण यहां पर जाना मुश्किल है। ऐसे में अधिकारी फिलहाल रेस्क्यू ऑपरेशन के लिए यहां पर पहुंचने की कोशिश में जुटे हुए हैं, लेकिन पहले मौके की सही स्थिति का पता लगाया जा रहा है।
शिवमोगा के बाहरी इलाके में हुए धमाके के कारण कई दुकानों के शीशे चटक गए। इसके अलावा आसपास के लोगों ने रात के वक्त ऐसी आवाज और धरती का हिलना सोचकर यह माना कि यह घटना भूकंप की है। हालांकि कुछ देर बाद इस बात का पता चला कि असल में ट्रक के धमाके के कारण यहां की धरती हिल गई थी।
स्थानीय लोगों के मुताबिक धमाका इतना तेज था कि आस-पास की तमाम इमारतों के शीशे टूट गए। इसके अलावा कई मकानों की छत को भी नुकसान पहुंचा। धमाके के बाद स्थानीय लोग अपने घरों से बाहर निकल आए और काफी देर तक इलाके में दहशत का माहौल बना रहा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here